रविवार, 6 मार्च 2016

लाल सलाम

pratul1971@gmail.com


मुर्दे को हो गया ज़ुकाम
'इंशा अल्लाह' सुन पैगाम
       लाल सलाम, लाल सलाम।


जुटे जेएनयू में सब वाम
गद्दारी का पढ़ा कलाम
      लाल सलाम, लाल सलाम।


बोते बबूल चाहेंगे आम
मीठा माँगें नमक हराम
      लाल सलाम लाल सलाम।


हाथ हथौड़ा सड़कें जाम
चौपट धंधे, चौपट काम
      लाल सलाम, लाल सलाम।


भूख गरीबी लेकर नाम
आज़ादी करती व्यायाम
      लाल सलाम, लाल सलाम।


जेएनयू से नंदीग्राम
हुए इकट्ठे सभी हराम
      लाल सलाम, लाल सलाम।


चला कन्हैया थाम लगाम
रथ पर बैठे सीताराम
      लाल सलाम, लाल सलाम।

मेरे पाठक मेरे आलोचक

Kavya Therapy

मेरे बारे में

मेरी फ़ोटो
नयी दिल्ली, India
समस्त भारतीय कलाओं में रूचि रखता हूँ.